हिंन्दी भाषा में ब्लॉगिंग करके हमारा समर्थन करें – सभी बलौगर जरुर पढें

हैल्लो फ्रैंड़स कैसे है आप सभी ? हिन्दी में पढ़ना और लिखना अच्छा लगता है न ? हैलो हाय की जगह नमस्ते और राम राम कहना अच्छा है लगता है न ? तो देर किस बात की ? आप भी हिन्दी भाषा का चुनाव करें और हिन्दी भाषा में ब्लौगिंग करें। कई दिनो से मुझे कई पाठकों के ई-मेल मिल रहे है और वह पुछते हैं कि “हिन्दी या अंग्रेजी में से किस भाषा में ब्लॉग पर लिखना चाहिए?” तो मैं उन्हे उत्तर तो नहीं दे पाया मगर खास उनके लिये यह पोस्ट लेकर आया हुं।

Imdishu logo png

हिन्दी ब्लॉगर्स कम कमाई कर पाते है क्योंकि CPC कम प्राप्त होती है और सभी पैसा भी कमाना चाहते है क्योंकि पैसा हमारी जरुरतों को पुरा करने के काम आता है। लेकिन अगर मैं कहूं कि आप हिन्दी ब्लॉगिंग से भी ढेर सारे पैसे कमा सकते है और हर रोज़ कमा सकते है तो आपका क्या सवाल होगा ? यहि न कि कैसे ? हां , तो मैं बताता हुं कि कैसे , पहली बात तो यह है कि आप बड़ी मुशकिल से एैडसेंस नें हिन्दी भाषा को मान्यता दी है और हमें इसका लाभ लेना चाहिए और उससे पहले आपको हिन्दी भाषा का विस्तार करना होगा यदि हिन्दी पब्लिशर ज्यादा होंगे तो भविष्य में कभी भी एैडसेंस हमारी मातृभाषा हिन्दी को सपोर्ट करना बंद नहीं करेगा।

और यदि आप हिन्दी ब्लॉग से ज्यादा कमाना चाहते है तो मैंने जो तरिके पहले बताए थे उन्हे ही फॉलो करिये और ब्लॉग पोस्ट में High CPC Keywords का प्रयोग करें , और धीरे धीरे जब आपकी बलौग लोकप्रिय हो जायेगी तब आपको डायरेक्ट ट्रैफिक मिलना शुरु हो जायेगा जिससे आप हर रोज़ ज्यादा कमा पायेंगे , लेकिन उसके लिये वक्त लगेगा। तो सबसे पहले ध्यान दें कि ब्लॉग बनाने के बाद एक साल तक पैसा कमाने की न सोच कर , पोस्टें लिखते जायें व शेअर करते जाये , और अपनी बलौग के नियमित पाठक बनायें और उसके बाद एक साल बाद आप जब एैडसेंस के लिये आवेदन करेंगे तो एैडसेंस आपकी एप्लिकेशन को मान्यता देकर आपको विज्ञापन लगाने की अनुमति दे देगा और आप कमाई करना शुरु कर देगें।

और यह बात हमेशा याद रखें कि “हिन्दी भाषा भारत देश की आत्मा है , हिन्दी के बिना भारत नहीं और भारत के बिना हिन्दी नहीं” आपको इन दोनो का विस्तार करना है हिन्दी में लिखकर , आज कल लोग जब गुगल में कुछ खोजने के लिये लिखते है तो हंगलिश का प्रयोग करते है जो कोई भाषा ही नहीं है यानि English + हिन्दी = Hinglish , जैसे Hindi Or English Me Koun Si Bhasha Me Blogging Karni Chahiye. यह हिंगलिश है।
हो सकता है कि कुछ समय बाद लोग हिन्दी में लिखकर ही सर्च करने लग जाये जैसे – हिन्दी या इंगलिश में से कौन सी भाषा में ब्लॉगिंग करनी चाहिए. 

क्योंकि समय बदलने में समय नहीं लगता कभी अलोक जी कि ब्लॉग पढ़कर देखना जिन्होंने पहली बार हिन्दी में ब्लॉग लिखी थी , तब आप समझ जायेंगे आज का समय सन् 2003 से अच्छा है आज सभी के पास समार्टफो़न है जिसये आसानी से हिन्दी में लिखा जा सकता है मगर कोई लिखना ही नहीं चाहता कम सी पी सी की वजह से। लेकिन यदि और भी हिन्दी बलौगर जुड़ते जाये तो एक दिन एैसा आयेगा कि अंग्रेजी और हिंगलिश ब्लॉगिंग से ज्यादा कमाई हिन्दी ब्लॉग्स की होगी. और उस समय सभी हिंगलिश ब्लॉगर्स की मेहनत बर्बाद हो जायेगी , मैं तो कहता हुं कि आनो वाले समय को लिये पहले से ही तैयारी करके रखो , हिंगलिश और हिन्दी दोनो में लिखो , इससे यह होगा कि जो हिंगलिश में पढ़ना चाहता हो वह हिंगलिश पढ़ सकेगा और जो हिन्दी में पढना चाहेगा उसे हिन्दी में हेल्प मिल जाया करेगी।

और यह भी तो हो सकता है कि 2014 की तरह एैडसेंस फिर से हिन्दी को अमान्य कर दे , हमें दोनो तरफ से सोचना होगा , मगर हम कुछ भी हो जाये हम हिन्दी भाषा का साथ नहीं छोडेंगे , एक न एक दिन एैडसेंस दोबारा हिन्दी को मान्यता देगा। मगर एैसा होगा नहीं अब क्योंकि अब इंटरनेट पर हिन्दी बलौगर्स की बड़ी तगड़ी फौज बन चुकी है और एैडसेंस के नियम भी मान रहे हैं अब देश बदल रहा है मेरा देश तरक्की कर रहा है , अब सभी पढ़ लिख कर ऑनलाइन ही पैसा कमा है याद है मैंने कल पोस्ट लिखी थी कि ” 22 वर्षिय हिमाचली युवक ने फेसबुक की तरह शोशल मिड़िया वेबसाइट बनाई” , यह तो कमाल है न ? आप भी जॉइन करिये इस वेबसाइट को और दोस्तो को भी बताइए ताकि अब भारत का पैसा भारत में ही रहे।  वैसे हिमाचल में भी बहुत सारे बलौगर है मैंने आपको सभी हिमाचली बलौगर्स की लिस्ट भी दी थी याद है न ?

दोस्तो 200 साल तक अंग्रेजो ने हमे लुटा मगर अब और नहीं अब और नहीं सहेगें अब हमारा देश भी उन्नति करेगा दोस्तो याद रहे कि देश की कमान आपके हाथों में है अब कोई सरदार भगत सिंह नहीं आयेगा जो फिर से हमारे लिये फांसी के फंदे पर हंसते हसते लटक जाये अब जो करना है आप लोगो को ही करना है आप को हिन्दी भाषा का समर्थन करना होगा और कोशिश करना की हमारा कानुन भी यह फैंसला कर ले की अब से सारी कागज़ी कार्यवाही हिन्दीं में ही होगी।  सही कहा न ? हां यही होना भी चाहिए दोस्तों आप ने क्या फैंसला किया ? क्या आप हिन्दी ब्लॉग शुरु करेंगे ? क्या आप हमारे साथ है ? हमें कॉमेंट्स में जरुर बताएं और हमारी ब्लॉग को सब्सक्रइब करें।
धन्यवाद दोस्तो । जय हिन्द । जय भारत।

दोस्तो यदि आप हमसे कोई प्रशन पुछना चाहते हैं तो कृपया बेझिझक पुछें आप हमसे कॉमेंटस द्वारा भी पुच सकते है या हमे ई-मेल भी कर सकते है हमारी ई-मेल आईडी है Panwerdishu@gmail.com हमें आपके सवालों का इंतजा़र रहेगा। और यदि आपके पास कोई कहानी , शायरी , लेख आदि है जिसे आप हमारी बलौग से शेअर करना चाहते हैं तो कृपया ई-मेल द्वारा हमें सुचित करें। 

आपका अपना साथी। 

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *