हिमाचली टोपी – पुरी जानकारी [ All Info About Himachali Cap In Hindi ]

हिमाचल प्रदेश से बाहर आने वाले कला और शिल्प कालीन, चमड़े का काम, शॉल, चित्रकारी, धातु के सामान, लकड़ी और पेंटिंग हैं। पश्मीना शाल एक उत्पाद है जो न केवल हिमाचल में बल्कि पूरे देश में मांग में है। आकर्षक हिमाचली कैप (पहाड़ी टोपी) लोगों की एक प्रसिद्ध कला का काम है।

हिमाचल के लोग पहाड़ी टोपी द्वारा पहचाने जा रहे हैं जो कि राज्य के विभिन्न हिस्सों में इस्तेमाल किया गया है। हिमाचली टोपियों का इस्तेमाल विभिन्न रंगों में किया जाता है जैसे हरे और लाल रंग यह हिमाचल के गर्व से भी जुड़ा हुआ है क्योंकि यह मेहमानों के सम्मान में भी विवाह और अन्य उत्सवों के दौरान विशेष स्थान पाता है। हिमाचलियों को उनके मेहमान एक पहाड़ी टोपी की पेशकश के द्वारा सम्मान करते हैं।

हिमाचली टोपियों के प्रकार हैं
1. कुल्लुवी टोपी ( कुल्लु जिला)
2. बुशहरी टोपी ( रामपुर , बुशहर)
3. किन्नौरी टोपी (किन्नौर)

कुल्लवी टोपी (Kulluvi Cap) – 
कुलुवी टोपी ने विश्व स्तर पर एक नाम भी अर्जित किया है क्योंकि पर्यटकों, घरेलू और विदेशी, कुल्लू की शॉल के साथ इस पहाड़ी राज्य की यात्रा के स्मारिका के रूप में कुल्लू शॉल खरीदने के लिए मत भूलना। कुल्लुवी टोपी अकस्क कुल्लु जिले के लोग पहनते हैं और इसकी पहचान करने के लिये फोटो में देखें।

कुल्लूवी के विकास के लिए श्रेय हिमाचल में सहकारी आंदोलन के संस्थापक ठाकुर वेद राम को जाता है। दिलचस्प बात यह है कि हिमाचल कैप का रंग हिमाचल में साल भर राजनीति में रहा है क्योंकि हरे रंग का रंग कांग्रेस पार्टी के साथ और हिमाचल में भारतीय जनता पार्टी के साथ लाल रंग का रहा है। पहाड़ी टोपी पहनने वाले लोग हमेशा हिमाचलियों के रूप में पहचाने जाते हैं।
बुशहरी टोपी – बुशहरी टोपी हिमाचल के रामपुर , बुशेहर क्षेत्र से जुड़ा हुआ है। 20 वीं शताब्दी की शुरुआत में टोपी का उपयोग काफी बढ़ गया, लगभग सभी लोगों ने उन्हें पहनने में गर्व महसूस किया। टोपी पहचानने के लिये निम्म दी तस्वीर देखें।

Bushhahri top

बुशहरी टोपी की मांग में राजनीतिकरण होने के बाद 80% की वृद्धि हुई है। हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की सरकार के रूप में हरे रंग वाले बुशहरी टोपी काफी मांग में हैं। ये टोपी विवाह और महत्वपुर्ण कार्यों में भी प्रमुख आकर्षण हैं।

किन्नौरी टोपी –  किन्नौरी टोपी को भी राजनीति का दर्जा दिया गया है क्योंकि इसे दो रंगों में लाल रंग और हरे रंग की पहचान की गई है। टोपी का हरी टोपी कांग्रेस पार्टी के साथ जुड़ा हुआ है और लाल रंग रंगीन भारतीय जनता पार्टी के साथ जुड़ा हुआ है।

हिमाचल के सीएम वीरभद्र सिंह (CM Virbhadra Singh) हरी टोपी पहनने के लिए इस्तेमाल करते हैं। यह टोपी अस्तित्व में आया क्योंकि ठंडें क्षेत्र में ठंड व बर्फ की स्थिति से बचने के लिए अपने सिर को ढकने की जरूरत महसूस की। टोपी पश्मीना या ऊनी कपड़ा और रंगीन कपड़े से उसके सामने जो कि वर्तमान में आयात किया जाता है, से तैयार किया जाती है।

हिमाचल टोपी और अन्य शिल्प की मांग में वृद्धि के साथ, ये विभिन्न ई-कॉमर्स वेबसाइटों पर ऑनलाइन और ऑफ़लाइन भी बेची जा रही हैं। यदि आप खरीदने के लिए तैयार हैं, तो आप उन्हें ऑनलाइन और ऑफ़लाइन खरीद सकते हैं

कोई बात नहीं है आप चाहे जो भी हिमाचली पहनिये, 
आपको हमेशा पहाड़ी के रूप में पहचाना जाएगा
तो एक हिमाचली होने पर गर्व करें ♥

हिमाचली टोपियां खरीदें ऑनलाइल – 
1. Buy From Amazon.
2. Beautiful Unique Cap Just A Rs.199.
3. Buy From Shopclues.
4. Buy From Shimply.com.
5. Buy From Snapdeal

www.imdishu.com यह भी एक हिमाचली वेबसाइट है जिसपर हर रोज़ कुछ नया पोस्ट किया जाता है इस वेबसाइट को बुकमार्क करना न भुलें और प्रतिदिन कुछ सीखें। 

आय एम दिशु टीम से जुड़े रहने के लिये हमारा ऑफिशल फेसबुक पेज़ लाइक व फ़ॉलो करें और हर रोज़ अपडेट्स पायें। 


हिमाचल से संबधित आर्टिकल : 
1. हिमाचल प्रदेश की संस्कृती और यहां के लोग – Lets Meet Our Himachali Culture And Their Peoples.
2. पहाड़ी भाषा में बनी सबसे फनी विडीयोस – Very Funny Himachali Vines Videos.
3. पहाड़ी लड़कों के बेहतरिन होने के 10 कारण – Uttrakhandi and Himachali.
4. धोबण – दर्द भरी दास्तान सुनाती कविता.
5. अजकला रे मुंडू – हिमाचली कविता.
6. हिमाचली जोक्स – Himachali Jokes & Funny.
7. हिमाचल के सभी ब्लॉगर्स की लिस्ट व जानकारी – All Himachali Bloggers List.
8. हिमाचल के 22 वर्षीय युवक ने बनायी शोशल मिडिया वेबसाइट – Sociork.
9. जैसमिन – अनकही कहानी Jasmine Chandla The Untold Story.
10. अतुल राजटा | हिमाचल के सुपरस्टार.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *